ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
अमेरिकी सांसद ने महात्मा गांधी की प्रतिमा को नुकसान पहुंचाने पर दिया बयान, बोले- ये बेहद अपमानजनक
June 5, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • दुनिया




वाशिंगटन। वाशिंगटन डीसी में अश्वेत व्यक्ति जॉर्ज फ्लायड की मौत के बाद लगातार हो रहे विरोध प्रदर्शन के बीच महात्मा गांधी की प्रतिमा को नुकसान पहुंचा गया है। इस घटना पर अमेरिकी शीर्ष सांसद ने बयान देते हुए कहा कि महात्मा गांधी की प्रतिमा के साथ अभद्रता अपमानजनक है। 
दरअसल, भारतीय दूतावास से सड़क के पार स्थित प्रतिमा को बुधवार को स्प्रे पेंटिंग के जरिए खराब कर दिया गया। वहीं, भारत में अमेरिकी राजदूत केन जस्टर ने घटना पर माफी मांगते हुए कहा कि गांधी की प्रतिमा क्षतिगस्त देखना बहुत दुखद है। मैं इसके लिए मांफी मांगता हूं। अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार यह घटना दो और तीन जून की दरम्यानी रात को हुई है। सीनेटर मार्को रूबियो ने गुरुवार को कहा कि भारतीय दूतावास के बाहर गांधी की प्रतिमा के साथ छेड़छाड़ का विरोध करने वालों के साथ कोई लेना-देना नहीं है।
अश्वेत फ्लायड की पुलिस हिरासत में हत्या के खिलाफ विरोध प्रदर्शन अमेरिका में कुछ स्थानों पर हिंसक हो गया है । विरोधियों ने प्रतिष्ठित स्मारकों को नुकसान पहुंचा। इस सप्ताह वाशिंगटन डीसी में, प्रदर्शनकारियों ने एक ऐतिहासिक चर्च को जला दिया और लिंकन मेमोरियल जैसे स्मारकों को भी क्षतिग्रस्त कर दिया है। गांधी की विध्वंस की प्रतिमा, जिसका डिजाइन गौतम पाल ने बनाया था, उसे फिलहाल, कवर किया गया है और जल्द से जल्द प्रतिमा और स्थल को साफ करने का प्रयास किया जा रहा है।
नॉर्थ कैरोलिना के सीनेटर टॉम टिलिस ने कहा कि डीसी में गांधी की प्रतिमा को इस तरह से देखना शर्मनाक है।गांधी शांतिपूर्ण विरोध के अग्रणी थे, जो महान परिवर्तन ला सकते हैं। इस तरह दंगे, लूटपाट और बर्बरता के साथ विरोध प्रदर्शन करना हमें एक साथ नहीं लाते है।
जानकारी के लिए बता दें कि अमेरिका में जॉर्ज फ्लायड अश्वेत व्यक्ति की मौत के बाद अमेरिका में जबरदस्त प्रदर्शन किया जा रहा है। लोग सड़कों पर आकर हिंसा कर रहे हैं। वॉशिंगटन में BlackLivesMatter के समर्थन पिछले एक सप्ताह से लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं।