ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
आखिरकार तमाम जद्दोजहद के बाद ओम स्वयं सहायता समूह के पाले में गिरा कोटा
October 3, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

आखिरकार तमाम जद्दोजहद के बाद ओम स्वयं सहायता समूह के पाले में गिरा कोटा

फतेहपुर। हुसैनगंज थाना क्षेत्र के भिटौरा चौकी के अंतर्गत आने वाले गांव सहिमापुर का है जहां कुछ दिनों पहले कोटा आवंटन में ओम स्वयं सहायता समूह तथा त्यागी स्वयं सहायता समूह के अंतर्गत झड़प हो गई मामला बिगड़ता देख थाना इंचार्ज ए. के. मिश्रा ,ग्राम विकाश अधिकारी एवं सेक्रेटरी ने मामले को शांत कराने के लिए कोटा आवंटन प्रक्रिया को रद्द कर दिया तथा समूह से लिखित एप्लीकेशन लेकर मामले को रोक दिया गया लेकिन अब तमाम जांच-पड़ताल  के बाद नोडल अधिकारी, ग्राम विकास अधिकारी एवं सेक्रेटरी ने यह निश्चय किया कि कोटा ओम स्वयं सहायता समूह के सदस्यों को दिया जाएगा क्योंकि ओम स्वयं सहायता समूह के सदस्यों का लेखा-जोखा पूर्णतया सही पाया गया एवं उनके मानक भी पूर्ण रूप से तैयार थे। इसलिए एस. डी. एम साहब की सहमति से कोटा आवंटन में  पदाधिकारियों के सुझाव से कोटा को साहबगंज के समूह के सदस्यों को दे दिया गया। जिसमें सचिव रूप में  रेखा देवी पत्नी रामनरेश कोषाध्यक्ष शादीरा खातून पत्नी मोहम्मद शाहिद तथा समूह अध्यक्ष उमा देवी पत्नी रामप्रकाश को बनाया गया इस बाबत जहां कोटा की सहमति के लिए ग्राम प्रधान के हस्ताक्षर अनिवार्य होते हैं। वहां ग्राम प्रधान सोमता सिंह पत्नी रमेश सिंह ने हस्ताक्षर करने से मना कर दिया अभी तक ग्राम प्रधान के हस्ताक्षर ना होने के कारण राशन वितरण का कार्य शुरू नहीं किया गया है। किंतु यह कयास लगाए जा रहे हैं कि जल्द ही ग्राम प्रधान सोमता सिंह हस्ताक्षर कर देंगी और गल्ला वितरण का कार्य शुरू हो जाएगा।