ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
आजमगढ़ में मारे गए दलित प्रधान के घर जा रहे भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद गिरफ्तार
August 21, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश


  
आजमगढ़।  बांसगांव तरवां में मारे गए दलित प्रधान सत्यमेव जयते के घर जा रहे भीम आर्मी और आजाद समाज पार्टी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इसकी जानकारी चंद्रशेखर आजाद के साथ गिरफ्तार हुए डॉक्टर कुश ने दी. आजाद के साथ उनके करीब 400 साथी भी गिरफ्तार किए गए हैं।

डॉक्टर कुश ने 'एशियाविल हिंदी' को बताया कि आजाद समाज पार्टी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद 300-400 लोगों के साथ आजमगढ़ के तरवां गांव जाने की कोशिश कर रहे थे. जहां दलित ग्राम प्रधान सत्यमेव जयते की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।ये लोग मारे गए ग्राम प्रधान के परिवार से मिलना चाहते थे।लेकिन पुलिस ने आजमगढ़ सीमा पर अतरौलिया थाना क्षेत्र के लोहरा टोल प्लाजा पर उन्हें और उनके साथियों को रोक लिया।
उन्होंने बताया कि पुलिस की ओर से रोके जाने के बाद सभी लोग वहां धरने पर बैठ गए. यह धरना करीब तीन घंटे तक चला।शाम सात बजे के करीब पुलिस ने सबको गिरफ्तार करने की घोषणा की. डॉक्टर कुश ने बताया कि सभी लोगों को एक पुलिस चौकी में रखा गया है।

तरवां के बांसगांव के लोकप्रिय ग्राम प्रधान सत्यमेव जयते की 14 अगस्त को बदमाशों ने घर से बुलाकर गोली मारकर हत्या कर दी थी।
इससे पहले गुरुवार की सुबह ग्राम प्रधान के घर जाने की कोशिश कर रहे प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू, सांसद पीएल पुनिया और अन्य को पुलिस ने वहां जाने से रोक दिया था। महाराष्ट्र के मंत्री और कांग्रेस के अनुसूचित जाति विभाग के अध्यक्ष डॉक्टर नितिन राउत को भी पुलिस ने हिरासत में ले लिया था।
कांग्रेस नेताओं को शाम चार सर्किट हाउस से लखनऊ रवाना किया गया था।