ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
आइटीसी की गणना के लिए परेशान रहने वाले कारोबारियों को 2बी के आटो पापुलेट रिटर्न ने दी राहत
October 27, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

आइटीसी की गणना के लिए परेशान रहने वाले कारोबारियों को 2बी के आटो पापुलेट रिटर्न ने दी राहत

(न्यूज़)।इनपुट टैक्स क्रेडिट (आइटीसी) की गणना के लिए परेशान रहने वाले कारोबारियों को 2बी के आटो पापुलेट रिटर्न ने बड़ी राहत दी है।अब तक कारोबारियों को आइटीसी की गणना करनी पड़ती थी लेकिन अब इस रिटर्न के जरिए उन्हें किस मद में कितनी आइटीसी मिली,आसानी से चल जाता है।विक्रेता जैसे ही जीएसटीआर 1 रिटर्न फाइल करता है।खरीददार कारोबारी को जीएसटीआर 2ए में उसकी सभी इनवाइस दिखने लगती थी। हालांकि समस्या थी कि खरीदार को इनवाइस नंबर,उसकी तारीख, टैक्स की दर,कुल खरीदारी के आंकड़े तो दिखते हैं लेकिन आइटीसी कितनी हुई, इसे उन्हें कैलकुलेटर लेकर जोड़ना पड़ता था।पिछले वर्ष धारा 36(4) में नियम भी आया था कि जीएसटीआर 2ए में जितनी आइटीसी दिखेगी,10 फीसद ज्यादा आइटीसी ही क्लेम की जा सकती है लेकिन समस्या वही थी कि जीएसटीआर 1 में आइटीसी दिखती नही थी,उसकी गणना करनी पड़ती थी।जीएसटी ने जीएसटीआर 2बी की व्यवस्था कर दी है।इस रिटर्न में  को उसकी सभी तरह की आइटीसी दिखती है। डेबिट नोट  की आइटीसी हो सकती है।