ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
5 यूट्यूब के पत्रकारों पर मुकदमा, 2 गए  जेल 3 फरार
June 30, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

लखनऊ- लखनऊ के बाज़ार खाला में  5 यूट्यूब चैनल के पत्रकारों को एक चिकित्सालय से उलझना भारी पड़ गया। पुलिस ने चिकित्सक की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर 2 को जेल भेज दिया और 3 भागने में कामयाब हो गए ।
प्राप्त जानकारी के अनुसार बाज़ार खाला थाना क्षेत्र में  5 यूट्यूब चैनल के पत्रकार जिनमे हसनैन जाफरी, रफी अहमद, मनोज शर्मा, सामर्थ सक्सेना और नीरज बाल्मीकि नाम के पत्रकार एक अस्पताल में  विज्ञापन लेने के लिये पहुंचे।
पहले तो पत्रकारों ने प्यार से विज्ञापन मांगा लेकिन चिकित्सक ने बताया की वो भी सम्पादक है और एक अखबार चलाता है। लेकिन पांचों पत्रकार अवैध रूप से पैसा मांगने लगे। इस बीच हसनैन जाफरी  चुपचाप निकल गया। तो वहां बैठे चिकित्सक ने अपने साथियों को बुलाकर मनोज शर्मा, समर्थ सक्सेना और नीरज बाल्मिकी को बैठा लिया। और कहा की जाफरी को बुलाओ। किसी तरह मनोज शर्मा व सामर्थ सक्सेना ने जाफरी को बुला लिया। इस बीच चिकित्सक ने जाफरी और उसके एक साथी को पकड लिया।और हंगामा करने लगे। मौका पाकर मनोज शर्मा, सामर्थ सक्सेना और नीरज बाल्मिक फरार हो गए । इसी बीच चिकित्साक ने  पुलिस को बुलाकर जाफरी व रफी को पुलिस के हवाले कर दिया। थाने में जाकर जाफरी ने बताया की वो भारतीय पत्रकार महासभा का अध्यक्ष है तथा पुलिस से उसके अच्छे सम्बंध हैं। लेकिन पुलिस ने कहा की अखबार के पत्रकार होगे तो छोड़ देंगे, लेकिन यूट्यूब के पत्रकार की मान्यता नही होती है। इस बीच जाफरी ने एक स्थानीय सम्पादक से बोला की वो उसको अपने अखबार में बताये लेकिन उस सम्पादक ने दो टुक मना कर दिया । 
इस बीच पुलिस ने जाफरी और रफी नाम के पत्रकार को जेल भेज दिया जबकी मनोज शर्मा, सामर्थ सक्सेना और नीरज बाल्मिक नामक यूट्यूब चैनल के पत्रकार फरार हो गए ।।