ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
5 नवंबर का भारतीय क्रिकेट से है खासा नाता, तीन महान खिलाड़ियों से जुड़ा है ये दिन
November 5, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

नई दिल्ली,  5 नवंबर वैसे तो ये तारीख ज्यादा खास नहीं है, लेकिन भारतीय क्रिकेट के नजरिए से देखा जाए तो ये तारीख काफी स्पेशल है। इस तारीख का खास नाता भारतीय क्रिकेट से बड़ा ही दिलचस्प रहा है। जी हां, इस तारीख को यानी 5 नवंबर को भारतीय टीम के एक महान खिलाड़ी ने आखिरी मैच खेला था, जबकि एक खिलाड़ी का इस दिन भारतीय टीम में सलेक्शन हुआ था। वहीं, एक भारतीय खिलाड़ी का इस दिन जन्म हुआ था। इस तरह 5 नवंबर भारतीय क्रिकेट में खास हो जाता है।

दरअसल, 5 नवंबर को जहां भारतीय क्रिकेट फैंस भारतीय टीम के मौजूदा कप्तान विराट कोहली का जन्मदिन मना रहे हैं, लेकिन बहुत कम लोग इस बात को जानते हैं कि भारतीय टीम के पूर्व महान बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने आज ही कि दिन अपना आखिरी मैच खेला था। आपको ये बात भी जानकर हैरानी होगी कि 5 नवंबर को भी क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर का भारतीय टीम में सलेक्शन इसी तारीख को हुआ था। ऐसे में 5 नवंबर को भारतीय क्रिकेट में स्पेशल तारीख कहा जाता है।5 नवंबर 1987 को सुनील गावस्कर ने अपने इंटरनेशनल करियर का आखिरी मैच खेला था, जब वे 1987 के वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में उतरे थे। उस मैच को भारतीय टीम इंग्लैंड के हाथों 35 रन से हार गई थी। इससे चार साल पहले भारत ने वर्ल्ड कप जीता था। वहीं, इसके एक साल बाद इसी तारीख को यानी 5 नवंबर 1988 को विराट कोहली का जन्म हुआ था, जबकि एक साल के बाद इसी तारीख को यानी 5 नवंबर 1989 को भारतीय टीम में महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर का चयनित किया गया था।सुनील गावस्कर, सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली भारतीय क्रिकेट के वो सितारे हैं, जो अपने आप में हर एक क्रिकेट फैंस के लिए आदर्श हैं। सुनील गावस्कर का सम्मान सचिन तेंदुलकर किया करते थे, जबकि सचिन तेंदुलकर को वही सम्मान विराट कोहली से मिलता रहा है। खास बात ये है कि सचिन तेंदुलकर और सुनील गावस्कर खुद विराट कोहली की बल्लेबाजी के प्रशंसक हैं। इन तीनों ही खिलाड़ियों ने इंटरनेशनल क्रिकेट में अपने-अपने समय में तहलका मचाया है।